वीरेंद्र सहवाग अंपायर पर क्यों हो रहे आग बबूला? बोले- पहले क्रिकेट में भी ऐसा होता था


नई दिल्ली. भारतीय महिला हॉकी टीम कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 (Commonwealth Games) के सेमीफाइनल मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया (India women vs Australia women) के खिलाफ विवादास्पद हार के बाद गोल्ड मेडल की दौड़ से बाहर हो गई है. ऑस्ट्रेलिया ने पेनल्टी शूटआउट में भारत को विवादास्पद तरीके से 3-0 से हराया. इस मुकाबले ने घड़ी से जुड़े विवाद को जन्म दिया. इसका फायदा ऑस्ट्रेलिया को हुआ और वह फाइनल में पहुंच गया. भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व ओपनर वीरेंद्र सहवाग (Virender Sehwag)  ने इस विवाद पर अपनी चुप्पी तोड़ी है.

पेनल्टी शूटआउट के दौरान अपना पहला प्रयास चूकने वाली ऑस्ट्रेलिया की रोजी मेलोन को एक और मौका दिया गया क्योंकि स्कोर बोर्ड पर आठ सेकंड की उलटी गिनती शुरू नहीं हुई थी. मेलोन दूसरा मौका मिलने पर नहीं चुकी और उन्होंने अपनी टीम को बढ़त दिला दी. इंग्लैंड के तकनीकी अधिकारी बी मोर्गन के इस फैसले से भारतीय प्रशंसक गुस्से में थे. प्रत्येक खिलाड़ी को शूटआउट में गेंद को जाली में डालने के लिए आठ सेकंड का समय मिलता है. मेलोन को दोबारा मौका मिलने के बाद भारतीय टीम लय गंवा बैठी और अपने पहले तीन प्रयास में गोल करने में नाकाम रही. दूसरी तरफ ऑस्ट्रेलिया ने अपने सभी मौकों को भुनाया.

virender sehwag, virender sehwag on india women hockey team, cwg 2022, commonwealth games 2022, women hockey controvery, india women hockey team, india vs australi women hockey controversy, ind vs aus hockey watch controversy, india national women hockey team, वीरेंद्र सहवाग, कॉमनवेल्थ गेम्स 2022

वीरेंद्र सहवाग का ट्वीट

वीरेंद्र सहवाग ने अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल पर लिखा, ‘ पेनाल्टी मिस हुआ ऑस्ट्रेलिया से और अंपायर ने कहा, सॉरी घड़ी शुरू नहीं हुई. जब तक हम क्रिकेट में सुपर पावर नहीं थे तब क्रिकेट में भी ऐसा होता था. हॉकी में भी जल्द बनेंगे और सभी घड़ियां समय पर शुरू होंगी. हमें अपनी लड़कियों पर गर्व है.’

विवादास्पद हार के बाद भारतीय महिला राष्ट्रीय टीम की कोच यानेक शोपमैन ने कहा कि कि घड़ी की गलती के कारण उनकी खिलाड़ियों ने लय खो दी और इससे वे काफी निराश और गुस्से में थीं. शोपमैन ने मैच के बाद कहा, ‘इससे हमने थोड़ी लय गंवा दी. इस फैसले से हर कोई निराश था. मैं इसे बहाने के रूप में इस्तेमाल नहीं कर रही हूं लेकिन जब आप शूटआउट में बचाव करते हैं तो इससे आपका मनोबल बढ़ता है. हमारी खिलाड़ी इस फैसले से वास्तव में बहुत निराश थीं.’ भारत और रविवार को कांस्य पदक के मैच में न्यूजीलैंड का सामना करेगा.

Tags: Commonwealth Games, Cwg, Indian Women Hockey, Indian women hockey team, Team india, Virender sehwag



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: