LUNA और UST में भारी गिरावट के बाद Terra की लीगल टीम ने दिया इस्तीफा


स्टेबलकॉइन UST और गवर्नेंस टोकन LUNA से जुड़े ब्लॉकचेन स्टार्टअप Terraform Labs की लीगल टीम ने इस्तीफा दे दिया है। यह कदम स्टार्टअप से जुड़े दो डिजिटल एसेट्स के प्राइस में भारी गिरावट के बाद उठाया गया है। UST ने एक डॉलर के साथ अपने जुड़ाव को तोड़ दिया था।

इस्तीफा देने वालों में Terraform Labs के जनरल लॉयर  Marc Goldich, चीफ लिटिगेशन एंड रेगुलेटरी काउंसल Noah Axler और चीफ कॉरपोरेट काउंसल Lawrence Florio शामिल हैं। इस फर्म के प्रवक्ता ने CoinDesk को बताया, “Terraform Labs के लिए पिछला सप्ताह चुनौतीपूर्ण रहा है और स्टाफ के कुछ सदस्यों ने हाल ही में इस्तीफा दिया है। स्टाफ की बड़ी संख्या प्रोजेक्ट के उद्देश्यों को पूरा करने के लिए काम कर रही है। हमारा फोकस Terra के इकोसिस्टम को दोबारा मजबूत बनाने पर है।” 

Terra के इकोसिस्टम को बड़ा झटका लगना हैरान करने वाला है और ब्लॉकचेन इकोसिस्टम में ऐसा बहुत कम देखा गया है। इसका बड़ा कारण Terraform Labs का एल्गोरिद्मिक स्टेबलकॉइन के तौर पर एक नई पेमेंट टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल बढ़ाने की कोशिश करना है। अन्य स्टेबलकॉइन्स का सामान्य एसेट्स में रिजर्व होता है लेकिन TerraUSD इसे एक एल्गोरिद्म के जरिए बरकरार रखता है, जो एक अन्य बैलेंसिंग टोकन Luna के इस्तेमाल से सप्लाई और डिमांड को नियंत्रित रखती है। एल्गोरिद्मिक स्टेबलकॉइन कहे जाने वाले TerraUSD ने पिछले सप्ताह डॉलर के साथ अपने 1:1 के जुड़ाव को तोड़ दिया था। अगर कोई एंटिटी LUNA टोकन की सप्लाई का 50 प्रतिशत से अधिक खरीद लेती है तो वह प्रोटोकॉल को बदलने में सक्षम हो जाएगी। इस स्थिति का गलत इस्तेमाल कर Terra ब्लॉकचेन को नुकसान पहुंचाया जा सकता है। गर्वनेंस टोकन्स के होल्डर्स गर्वनेंस से जुड़े प्रस्तावों पर वोट दे सकते हैं। गर्वनेंस टोकन की बड़ी हिस्सेदारी रखने वाले ब्लॉकचेन के काम करने के तरीके को बदल सकते हैं।

क्रिप्टोकरेंसी का वर्जन स्टेबलकॉइन्स अपने मार्केट प्राइस को गोल्ड या सामान्य करेंसीज जैसे किसी रिजर्व एसेट से जोड़ने की कोशिश करते हैं। ये ऐसी डिजिटल ट्रांजैक्शंस के लिए अधिक इस्तेमाल होते हैं जिनमें वर्चुअल एसेट्स को वास्तविक एसेट्स में कन्वर्ट करना शामिल होता है। USD Coin, Tether और Binance USD कुछ लोकप्रिय स्टेबलकॉइन्स हैं, जो अमेरिकी डॉलर से जुड़े हैं। स्टेबलकॉइन एक्सचेंज के प्रमुख माध्यम के तौर पर उभरा है। इसका इस्तेमाल अक्सर ट्रेडर्स की ओर से फंड भेजने के लिए किया जाता है। प्रमुख स्टेबलकॉइन्स को बिटकॉइन या अन्य क्रिप्टोकरेंसीज के लिए एक्सचेंज करना आसान है। 

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

संबंधित ख़बरें



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: