अहम होगी सलामी जोड़ी और स्पिनर, पेस अटैक है चिंता, जानें टीम की ताकत और कमजोरी – News18 हिंदी

Photo of author


नई दिल्ली. राजस्थान रॉयल्स (RR) की टीम पिछले साल अपना दूसरा इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) खिताब जीतने के करीब पहुंची थी, लेकिन गुजरात टाइटन्स ने डेब्यू वाले साल में ही ट्रॉफी हथियाकर उनके लिए इसे निराशाजनक बना दिया था. अब राजस्थान की टीम अपने ‘मैच विजेता’ खिलाड़ियों के साथ 31 मार्च से शुरु हो रहे आगामी सत्र में बेहतर प्रदर्शन करने के लिए बेताब होगी. टीम ने हालांकि कुछ खिलाड़ियों के चोटिल होने के बावजूद अपनी ‘को’ टीम बरकरार रखी है.

राजस्थान रॉयल्स को पहला मैच दो अप्रैल को सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ खेलना है. कुमार संगकारा आईपीएल टीम राजस्थान रॉयल्स में क्रिकेट निदेशक और मुख्य कोच की दोहरी भूमिका निभाते रहेंगे, जबकि ट्रेवर पेनी उनके सहायक होंगे. श्रीलंका के लसिथ मलिंगा तेज गेंदबाजी कोच होंगे जबकि जुबिन भरूचा रणनीति, विकास और प्रदर्शन निदेशक होंगे. जाइल्स लंडिसे विश्लेषण और तकनीक कोच, सिद्धार्थ लाहिड़ी सहायक कोच और दिशांत याग्निक फील्डिंग कोच होंगे. संजू सैमसन की कप्तानी वाली टीम ने जॉन ग्लोस्टर (मुख्य फिजियो), रॉब यंग (टीम डॉक्टर), एटी राजामनी प्रभु (अनुकूलन कोच) की सेवाएं भी बरकरार रखी हैं. मोन ब्रोकमैन टीम के मानसिक प्रदर्शन कोच होंगे जबकि नील बैरी सहायक फिजियो होंगे.
रोहित शर्मा की सलमान खान से रिश्तेदारी, क्रिकेटर की पत्नी से जुड़ा है कनेक्शन, जानें क्या है रिश्ता

राजस्थान रॉयल्स का मजबूत पक्ष:

टीम की मजबूती इसका बल्लेबाजी लाइन-अप है जिसमें यशस्वी जायसवाल और जोस बटलर की सलामी जोड़ी खतरनाक और यह सबसे ताकतवर दिखती है. टूर्नामेंट की अन्य टीमें इस जोड़ी से सतर्क रहेंगी. इंग्लैंड टी20 कप्तान बटलर 2023 सत्र तक लगातार रन बना रहे हैं. जायसवाल भी शानदार फॉर्म में हैं. उन्होंने विजय हजारे ट्राफी में लगभग 80 की औसत से 396 रन बनाए, वहीं सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में 141.48 के शानदार स्ट्राइक रेट से 266 रन बनाए. बाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने बांग्लादेश ए के खिलाफ भारत ए के लिए शतक भी लगाया. टीम के मध्य क्रम में जो रूट और देवदत्त पडिक्कल, शिमरोन हेटमायर और प्रतिभाशाली रियान पराग के साथ कप्तान संजू सैमसन शामिल हैं. रविचंद्रन अश्विन और युजवेंद्र चहल की अनुभवी जोड़ी के साथ ऑस्ट्रेलियाई एडम जम्पा की मौजूदगी से स्पिन विभाग मजबूत दिखता है.

राजस्थान रॉयल्स का कमजोर पक्ष:

सीमित ओवरों के क्रिकेट में एक हरफनमौला की भूमिका बहुत अहम होती है, जिसमें टीम कमजोर हो सकती है. वेस्टइंडीज के जेसन होल्डर के तौर पर टीम के पास एक ही बेहतरीन आलराउंडर है, लेकिन दक्षिण अफ्रीका के डोनोवन फेरेरा और घरेलू क्रिकेटर अब्दुल बासिथ और आकाश वशिष्ठ को अभी इस स्तर पर परखा नहीं जा सका है. लेकिन ‘इम्पैक्ट प्लेयर’ नियम टीम के लिए बचाव का रास्ता बन सकता है, क्योंकि इससे एक ऑलराउंडर की जरुरत कम हो जाती है. जयपुर की टीम के लिए गेंदबाजी चिंता का कारण हो सकती है. ट्रेंट बोल्ट को छोड़कर तेज गेंदबाजी आक्रमण सामान्य दिखता है. पीठ में फ्रैक्चर के कारण प्रसिद्ध कृष्णा आईपीएल में नहीं खेल पायेंगे जिससे राजस्थान रॉयल्स के लिए चीजें खराब हो गयीं. अब जिम्मेदारी नवदीप सैनी, कुलदीप सेन और वेस्टइंडीज के ओबेद मैकॉय पर होगी. तेज गेंदबाजी जहां चिंता का विषय है तो स्पिन आक्रमण अश्विन, चहल और जम्पा के सुरक्षित हाथों में है जो टूर्नामेंट में सर्वश्रेष्ठ में से एक है.

IPL 2023: विराट कोहली बल्ले से रच सकते हैं इतिहास, 1 या 2 नहीं, तोड़ सकते हैं पूरे 6 रिकॉर्ड

किन-किन के पास होगा मौका:

तेज गेंदबाजी विभाग कमजोर दिख रहा है लेकिन सैनी, सेन, केएम आसिफ और दिल्ली के बाएं हाथ के तेज गेंदबाज कुलदीप यादव के लिए आगामी सत्र अपनी छाप छोड़ने और अपनी उपस्थिति दर्ज कराने का एक बड़ा मौका हो सकता है. साथ ही आगामी सत्र जेसन होल्डर और एडम जम्पा को भी मौके प्रदान करेगा.

क्या है टीम का खतरा :

पिछले रिकॉर्ड को देखें तो टूर्नामेंट राजस्थान रॉयल्स के लिए इतना अच्छा नहीं रहा है, क्योंकि उनके नाम असफलताओं का इतिहास रहा है. टीम ने 2008 में दिवंगत शेन वार्न की कप्तानी में शुरुआती चरण का खिताब जीता था लेकिन इसके बाद पिछले साल तक यह सफर निराशाजनक रहा. पिछले साल टीम उपविजेता रही. टूर्नामेंट के इतिहास में टीम ने केवल तीन बार प्लेऑफ में जगह बनाई और दो साल के लिए बैन भी रही. लेकिन आगामी सत्र में कोच कुमार संगकारा की टीम निरंतर अच्छे प्रदर्शन से सफलता हासिल करना चाहेगी.

सबसे मजबूत प्लेइंग इलेवन: देवदत्त पडिक्कल, जोस बटलर, यशस्वी जायसवाल, संजू सैमसन, शिमरोन हेटमायर, रियान पराग, जेसन होल्डर, रविचंद्रन अश्विन, कुलदीप सेन, नवदीप सैनी, ट्रेंट बोल्ट.

राजस्थान रॉयल्स की पूरी टीम:
संजू सैमसन (कप्तान और विकेटकीपर), यशस्वी जायसवाल, शिमरोन हेटमायर, देवदत्त पडिक्कल, जोस बटलर (विकेटकीपर), ध्रुव जुरेल, रियान पराग, संदीप शर्मा, ट्रेंट बोल्ट, ओबेड मैककॉय, नवदीप सैनी, कुलदीप सेन, कुलदीप यादव, आर अश्विन, युजवेंद्र चहल, केसी करियप्पा, जेसन होल्डर, डोनोवन फरेरा (विकेटकीपर), कुणाल राठौर, एडम ज़म्पा, केएम आसिफ, मुरुगन अश्विन, आकाश वशिष्ठ, अब्दुल पीए, जो रूट.

Tags: IPL 2023, Rajasthan Royals, Sanju Samson



Source link

Please follow and like us:

Leave a Comment

%d bloggers like this: