Podcast: भारत के ‘मिशन वर्ल्ड कप’ को झटका, टीम सिलेक्शन पर भी सवाल


एशिया कप में भारत के प्रदर्शन ने सभी को निराश किया है. उस पर एशिया कप के अंतिम मैच में भारत के लिए शतक जड़ने वाले विराट कोहली और पांच विकेट लेने वाले भुवनेश्वर कुमार का मोहाली में आते ही नाकामयाब होना, कोई अच्छा संकेत नहीं है. पिछले कुछ समय से, खासकर एशिया कप में शिकस्त के बाद से भारत का ‘मिशन वर्ल्ड कप’ थोड़ा कमजोर दिखाई देने लगा है. वर्ल्ड कप के चयन पर भी थोड़े बहुत सवालिया निशान हैं. निरंतरता की कमी से भारतीय टीम संकट में है. मोहाली में हार्दिक पंड्या ने एक और जुझारू प्रदर्शन किया है, जबकि लोकेश राहुल अर्धशतक बनाकर बुझती उम्मीदों को थोड़ा रोशन कर गए हैं.

बीतते समय के साथ भारत की निर्भरता जसप्रीत बुमराह और हार्दिक पंडया पर बढ़ती जा रही है. बुमराह चोट से उबरकर खेलने के लिए तैयार हैं, लेकिन कितने फिट हैं, यह देखना होगा. भुवनेश्वर कभी शुरुआती ओवरों और डेथ ओवरों में कारगर गेंदबाज हुआ करते थे, पर अब ऐसा नहीं है. भारत ने हाल फिलहाल जितने मैच हारे हैं-उसमें भुवनेश्वर ने काफी रन दिए हैं. मोहाली में उनका बिना विकेट लिए 52 रन खर्च करना भारत को महंगा पड़ गया. ऐसे में 209 रन का अभूतपूर्व लक्ष्य भी आस्ट्रेलिया के लिए आसान हो गया. भुवी, हर्षल पटेल और आवेश खान इस साल खराब गेंदबाजी करने वालों की लिस्ट में हैं, जिन्होंने पारी में कम से कम चार बार 40 से ज्यादा रन दिए. हर्षल तो यह आंकड़ा पांच बार पार कर चुके हैं.

रोहित शर्मा को भी नागपुर में बेहतर कप्तानी दिखाने की जरूरत है. गेंदबाजों का इस्तेमाल उनसे सही नहीं हो रहा है, लिहाजा बल्लेबाजों की मेहनत पर पानी फिर रहा है. हार्दिक पंड्या ने मोहाली में 30 गेंदों पर नाबाद 71 रन की पारी न खेली होती तो भारत दो सौ के पास भी नहीं पहुंच पाता. जाहिर है हार्दिक पर बल्लेबाजी का बोझ बढ़ता जा रहा है,  हालांकि टॉप आर्डर में भारी भरकम बल्लेबाजों की कमी नहीं है.

विराट कोहली पर निगाहें बनी हुई हैं, पर उनका फॉर्म निरंतर नही है. अफगानिस्तान के खिलाफ दुबई में शतक जड़ने के बाद उम्मीद थी कि मोहाली में भी उनके बल्ले से एक बेहतर पारी आएगी. लेकिन वे सिर्फ 11 रन बनाकर भारत को मुश्किल में डाल गए. रोहित का बल्ला भी लंबे समय से खामोश है. लोकेश राहुल का अर्धशतक थोड़ा सुकून जरूर दे गया, लेकिन आईपीएल में उनके प्रदर्शन की बात ही अलग रही है. सूर्यकुमार यादव सबसे भरोसेमंद बने हुए हैं. उन्होंने लगातार औसतन बढ़िया योगदान किया है.

मोहम्मद शमी का वर्ल्ड कप की टीम में नहीं होना, थोड़ा चौंकाने वाला था, लेकिन उमेश यादव को पहले मैच में मौका मिलना उसे ज्यादा चौका गया. क्योंकि शमी की तरह स्टैन्ड बाई लिस्ट में शामिल दीपक चहर को मौका दिया जा सकता था. उमेश को काउंटी मैचों से चोट के कारण भारत लौटना पड़ा था. वैसे उमेश ने निराश नहीं किया और दो विकेट निकालकर अपनी सार्थकता साबित की. इसी तरह, दिनेश कार्तिक और ऋषभ पंत को लेकर आंख मिचौली का खेल जारी है. कब दोनों को साथ उतार दिया जाएगा या कब किसे किसपर और क्यों तरजीह दी जाएगी कह पाना मुश्किल है.

दूसरी ओर आस्ट्रेलिया ने पहला मैच जीतकर सभी देशों को संदेश दिया है कि वर्ल्ड कप में उनकी चुनौती देना आसान नहीं होगा. किसे पता था कि डेविड वार्नर के नाम वापस लेने के बाद टीम में शामिल किए गए कैमरून ग्रीन भारतीय टीम के लिए भारी पड़ जाएंगे. उन्होंने अर्धशतक जमाकर जीत की जो नींव डाली, उसे मैथ्यू वेड ने पूरा कर दिखाया. पिछले कई मुकाबलों में मैथ्यू वेड को लेकर भारतीय थिंक टैंक में कोई रणनीति नजर नहीं आई है.

उधर, टी-20 सीरीज 1-2 से हारने के बाद भारतीय महिला टीम ने इंग्लैंड के खिलाफ वनडे मैचों की सीरीज 2-0 की बढ़त के साथ जीत ली है. इंग्लैंड की धरती पर भारतीय महिलाओं की 23 साल बाद कोई वन डे सीरीज जीत है. तीसरा मैच कल जब लॉर्ड्स में खेला जाएगा तो यह न केवल भारत, बल्कि झूलन गोस्वामी के लिए भी यादगार होगा. झूलन गोस्वामी का यह आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच होगा. झूलन सदाबहार खिलाड़ी रही हैं और लगभग 20 वर्षों के अपने कैरियर में उन्होंने तीनों फॉर्मेंट में 353 विकेट हासिल किए हैं.

बहरहाल, भारतीय महिला टीम ने इंग्लैंड के खिलाफ पहला वनडे सात विकेट से और दूसरा 88 रन से जीत लिया. इन दोनों मैचों में स्मृति मंधाना, कप्तान हरमनप्रीत कौर, यास्तिका भाटिया और हरलीन देओल की जबर्दस्त बल्लेबाजी रही. पहले मैच में स्मृति मंधाना शतक से चूक गईं, लेकिन दूसरे मैच में हरमनप्रीत ने शतक ठोककर यह कमी दूर कर दी. हरमनप्रीत ने पहले मुकाबले में नाबाद 74 रन की पारी खेली थी. जबकि, दूसरे मैच में 111 गेंदों पर नाबाद 143 रन बनाकर बवंडर ला लिया, जिसकी बदौलत भारतीय टीम ने 333 रन का स्कोर खड़ा किया. जवाब में एक समय मेंजबान ने विशाल लक्ष्य के बावजूद मुकाबले को रोमांचक बना दिया था, लेकिन फास्ट बॉलर रेणुका ठाकुर के चार और हेमलता के दो विकेट ने मेंजबान को 245 पर समेटकर भारत को जीत दिला दी.

एशिया कप के लिए भारतीय महिला टीम की घोषणा कर दी गयी है. वर्तमान चैंपियन बांग्लादेश इस बार एशिया कप का मेंजबान है. भारत को एक अक्टूबर को श्रीलंका के साथ अपने अभियान की शुरुआत करनी है. इंग्लैंड में खेल रही भारतीय टीम ही टी-20 एशिया कप में खेलेगी, जिसमें सिर्फ जेमिमा रोड्रिग्ज को जोड़ा गया है, जो अब चोट से उबर चुकी हैं.

उधर, न्यूजीलैंड ए के खिलाफ भारत ए ने तीन वनडे अनाधिकृत मैचों की सीरीज के पहले मैच में कल चेन्नई में सात विकेट से जीत दर्ज की. भारत के लिए रुतुराज गायकवाड ने 41, संजू सैमसन ने 39 और रजत पाटीदार ने 45 रन की पारी खेली. साथ ही पिछले मैच में नाकाम रहने वाले शार्दुल ठाकुर ने चार और कुलदीप सेन ने तीन विकेट लिए. लेकिन उमरान मलिक टेस्ट के बाद वनडे में भी फेल रहे. वनडे सीरीज का दूसरा मैच 25 को और तीसरा मैच 27 तारीख को चेन्नई में ही खेला जाएगा.

इससे पहले भारत ए ने अनआफिसिलयल टेस्ट मैचों की  सीरीज 1-0 से जीत ली. पहले दोनों मुकाबले ड्रॉ पर समाप्त हुए थे जबकि बेंगलुरू में खेले गए तीसरे मैच में मेंजबान ने 113 रन से जीत हासिल की. इस जीत में गेंदबाजों की खासी भूमिका रही, सौरभ कुमार ने नौ विकेट लेकर मेहमान के खेमे में हलचल मचा दी. मुकेश कुमार और राहुल चाहर ने भी अच्छा योगदान दिया.

दलीप ट्रॉफी सेमीफाइनल में वेस्ट जोन- सेंट्रल जोन को और साउथ ने नॉर्थ जोन को 645 रन के बड़े अंतर से पराजित कर फाइनल में जगह बनाई है, जो इस समय सेलम में खेला जा रहा है. आज फाइनल का तीसरा दिन है.  इस ग्राउंड पर 1992 के बाद किसी भी फोर्मेट का पहला अधिकृत मैच है. पहले दो दिनों में वेस्ट जोन की पहली पारी के 270 रन के जवाब में साउथ जोन ने सात विकेट पर 318 रन बनाए हैं. हनुमा विहारी और मयंक अग्रवाल के सस्ते में निपट जाने के बाद बाबा अपराजित ने शतकीय पारी खेली. वेस्ट जोन को कम स्कोर पर आउट करने का श्रेय साई किशोर को जाता है, जिन्होंने पांच विकेट अपने नाम किए. वेस्ट जोन की ओर से हेत जिग्नेश पटेल 98 पर आउट होकर शतक से चूक गए.

यह था, सप्ताह भर की क्रिकेट गतिविधियों पर आधारित पॉडकास्ट-सुनो दिल से. संजय बैनर्जी को अनुमति दीजिए नमस्कार.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: