Sachin Tendulkar Birthday: 24 साल पहले सचिन तेंदुलकर ने मनाया था तूफानी बर्थडे, वॉर्न की रातों की नींद हो गई थी हराम


नई दिल्ली. शेन वॉर्न (Shane Warne) की गिनती महान गेंदबाजों में होती है. लेकिन, किसी एक बल्लेबाज ने उनकी रातों की नींद हराम कर दी थी, तो वो सचिन तेंदुलकर थे. वॉर्न ने यह बात कई बार बड़ी साफगोई से कही थी. अब वॉर्न तो इस दुनिया में नहीं है, लेकिन इन दोनों खिलाड़ियों की क्रिकेट मैदान पर राइवलरी और उससे अलग दोस्ती के कई किस्से मशहूर हैं. ऐसा ही एक किस्सा साल 1998 का है. जब शेन वॉर्न को सपने में सचिन नजर आने लगे थे. आज उसकी बात इसलिए, क्योंकि सचिन तेंदुलकर 49 बरस के हो गए हैं. ‘क्रिकेट के भगवान’ का आज ही के दिन 24 अप्रैल, 1973 को मुंबई में जन्म हुआ था और उन्होंने 24 साल पहले 1998 में अपने जन्मदिन पर ऐसा धमाल मचाया था, जो हर क्रिकेट प्रेमी को आज भी याद है और शेन वॉर्न तो इससे ताउम्र ही भूल नहीं पाए थे. इस दिन शारजाह में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ कोका-कोला कप के फाइनल में सचिन का तूफान आया था.

दरअसल, 1998 में 24 अप्रैल के दिन ही भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच शारजाह में कोका-कोला कप का फाइनल खेला गया था. इस मैच में सचिन ने 131 गेंद पर ताबड़तोड़ 134 रन बनाए थे, जिसमें 12 चौके और तीन छक्के शामिल थे. सचिन की इस पारी की बदौलत भारत ने 6 विकेट से ऑस्ट्रेलिया को हराते हुए कोका-कोला कप अपने नाम किया. इस मैच में वॉर्न ने 10 ओवर में 61 रन दिए थे.

इस मैच में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 272 रन की चुनौती दी थी, जिसके जवाब में टीम इंडिया ने 48.3 ओवर में सिर्फ 4 विकेट के नुकसान पर इस लक्ष्य को हासिल कर लिया था. ओपनर सौरव गांगुली के सस्ते में आउट होने के बाद भारत की वापसी की उम्मीद कम ही थी. लेकिन सचिन ने कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन के भरोसे को टूटने नहीं दिया और ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों की जमकर खबर ली. इस शतकीय पारी में जड़ा सचिन का हर एक शॉट आज तक ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को याद है.

खुद डॉन ब्रैडमैन ने भी एक बार कहा था कि तेंदुलकर ही इकलौते ऐसे क्रिकेटर हैं, जिन्हें ऑस्ट्रेलियाई टीम हमेशा याद रखेगी.

सचिन के लिए 1998 रहा बेहद स्पेशल
सचिन तेंदुलकर ने 1998 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ इस मैच में ही नहीं, बल्कि पूरे साल ताबड़तोड़ बल्लेबाजी की थी. उनके लिए 1998 स्पेशल रहा था. सचिन ने इस साल 12 शतक लगाए था, जोकि एक रिकॉर्ड है. विराट कोहली इस रिकॉर्ड के करीब दो बार पहुंचे हैं, उन्होंने साल 2017 और 2018 में 11-11 शतक लगाए हैं. लेकिन वो सचिन को पीछे नहीं छोड़ पाए. रिकी पॉन्टिंग ने भी 2003 में 11 शतक लगाए थे.

जब सचिन तेंदुलकर का शारजाह में आया ‘डेजर्ट स्टॉर्म’; आज भी रोमांचित करती है वो पारी

सचिन ने 600 से ज्यादा इंटनेशनल मैच खेले
सचिन ने भारत के लिए 200 टेस्ट, 463 वनडे और एक टी20 खेला, जिसमें उन्होंने 34 हजार से अधिक रन बनाए. वो इंटरनेशनल क्रिकेट में 100 शतक लगाने वाले इकलौते खिलाड़ी हैं. अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे अधिक रन बनाने का रिकॉर्ड भी उनके ही नाम है. वह सबसे ज्यादा टेस्ट मैच खेलने वाले और सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं.

Tags: Cricket, On This Day, Sachin tendulkar, Shane warne



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: