TerraUSD में गिरावट के बाद सतर्क हुई अमेरिकी क्रिप्टो इंडस्ट्री


पिछले सप्ताह TerraUSD में भारी गिरावट के बाद स्टेबलकॉइन्स को लेकर अमेरिकी सांसदों ने आशंकाएं जताई हैं। बड़ी क्रिप्टो फर्मों का प्रतिनिधित्व करने वाली ब्लॉकचेन एसोसिएशन और चैंबर ऑफ डिजिटल कॉमर्स का कहना है कि UST कहे जाने वाले TerraUSD के डॉलर के साथ अपने जुड़ाव को तोड़ने और लगभग 90 प्रतिशत गिरने के बाद से उन्हें सांसदों की ओर से कई प्रश्न मिल रहे हैं। 

अन्य स्टेबलकॉइन्स का सामान्य एसेट्स में रिजर्व होता है लेकिन TerraUSD इसे एक एल्गोरिद्म के जरिए बरकरार रखता है, जो एक अन्य बैलेंसिंग टोकन Luna के इस्तेमाल से सप्लाई और डिमांड को नियंत्रित रखती है। स्टेबलकॉइन्स ऐसी क्रिप्टोकरेंसीज होते हैं जो अपने मार्केट प्राइस को गोल्ड या सामान्य करेंसीज जैसे किसी रिजर्व एसेट से जोड़ने की कोशिश करते हैं। ये ऐसी डिजिटल ट्रांजैक्शंस के लिए अधिक इस्तेमाल होते हैं जिनमें वर्चुअल एसेट्स को वास्तविक एसेट्स में कन्वर्ट करना शामिल होता है। इससे जुड़ी ब्लॉकचेन के डिवेलपर्स ने सिक्योरिटी को मजबूत रखने के लिए ट्रांजैक्शंस को रोका है लेकिन इससे Terra कम्युनिटी के मेंबर्स नाराज हैं। गिरावट की स्थिति का गलत इस्तेमाल कर Terra ब्लॉकचेन को नुकसान पहुंचाया जा सकता है। 

अमेरिकी सांसदों ने UST के स्ट्रक्चर पर प्रश्न किए हैं। वे यह जानना चाहते हैं कि क्या इसकी गिरावट को रोका जा सकता था और क्या अन्य स्टेबलकॉइन्स के साथ भी ऐसा ही हो सकता है। ब्लॉकचेन एसोसिएशन की एग्जिक्यूटिव डायरेक्टर Kristin Smith ने कहा, “हम यह स्पष्ट करना चाहते हैं कि स्टेबलकॉइन्स को लेकर हम सतर्क हैं क्योंकि हमारा मानना है कि ये क्रिप्टो के इकोसिस्टम का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बनेंगे।” पिछले वर्ष नवंबर में क्रिप्टोकरेंसी इंडस्ट्री के बढ़कर 3 लाख करोड़ डॉलर पर पहुंचने के बाद से रेगुलेटर्स और सांसदों की ओर से इस सेगमेंट की स्क्रूटनी बढ़ाने की जरूरत बताई जा रही है।

क्रिप्टो इंडस्ट्री ने भी इस वजह से अमेरिका में राजनीति के केंद्र वॉशिंगटन में अपनी मौजूदगी बढ़ाई है। इस इंडस्ट्री ने पिछले वर्ष लॉबीइंग पर बड़ी रकम खर्च की थी। पिछले कुछ सप्ताह में भारी गिरावट के कारण क्रिप्टो मार्केट 1.98 लाख करोड़ डॉलर से घटकर 1.3 करोड़ डॉलर का हो गया है। इनवेस्टर्स ने इंटरेस्ट रेट बढ़ने के कारण बिकवाली की है जिससे बहुत सी क्रिप्टोकरेंसीज के प्राइसेज काफी गिर गए। 

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

संबंधित ख़बरें



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: